शिक्षकों के वीडियो से पढ़ाई कराएगी उत्तर प्रदेश सरकार शिक्षकों ने इसके लिए मैनपुरी जोन का चयन किया है।

प्रदेश स्तरीय लखनऊ में आयोजित चार दिवसीय शैक्षिक वीडियो निर्माण अभिमुखीकरण कार्यशाला समाप्त होने के बाद चयनित शिक्षकों के वीडियो शूट होने के बाद इनको ही दिखाकर प्रदेश भर के स्कूलों में पढ़ाई कराई जाएगी।

फिरोजाबाद जिले के दो शिक्षकों के वीडियो से प्रदेश के स्कूलों में पढ़ाई कराई जाएगी। शिक्षकों की वीडियो बनाने के लिए टीम शीघ्र ही जिले में दस्तक देगी। फिरोजाबाद के दोनों शिक्षकों ने इसके लिए मैनपुरी जोन का चयन किया है।

खैरगढ़ के नगला खरगा स्थित प्राथमिक स्कूल में तैनात शिक्षक अनुज का चयन व्यक्तिगत स्वच्छता व हैंडवॉश हैबिट्स को लेकर वीडियो का निर्माण के लिए किया है। प्राथमिक स्कूल जरौलीकलां में तैनात शिक्षिका मनीषा रानी को टीएलएम आधारित छात्र सहभागिता वीडियो बनाने के लिए चुनी गईं हैं। 

शिक्षकों की वीडियो की शूटिंग करने के लिए मुंबई से एक टीम दो एवं तीन मार्च को जिले में आ जाने के साथ वीडियो की शूटिंग का काम करेगी। शिक्षकों ने इसके लिए मैनपुरी जिले को चयनित किया गया है।

शिक्षकों के चयन के लिए ऑनलाइन फार्मों को भरा गया था।350 शिक्षकों में 51 का चयन पूरे प्रदेश से किया गया था।मनीषा रानी एंव अनुज लहरी को चयनित किया गया है। 19 से 22 फरवरी तक प्रशिक्षण पूर्ण होने के साथ दोनों को थीम सलेक्ट कराई।

support-alone-indians
Ghiror Live
Author: Ghiror Live

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published.