महंगा हो सकता है मोबाइल रिचार्ज, टेलीकॉम कंपनियां देंगी दूसरा झटका

नई दिल्ली। टेलिकॉम कंपनियों ने नुकसान से बचने के लिए टैरिफ प्लान्स में बढ़ोतरी की है, जिसके बाद देश भर में ग्राहकों को रिचार्ज के लिए दिक्कतें आ रही हैं। ग्राहक पुराने प्लान्स का फायदा नहीं ले पा रहे हैं। ऐसे में टेलिकॉम कंपनियां अपने ग्राहकों को एक और झटका देने जा रही हैं। खबर है कि आगामी समय में कंपनियां अपने टैरिफ प्लान्स में और बढ़ोतरी कर सकती हैं जिससे ग्राहकों को रिचार्ज कराना मुश्किल साबित हो सकता है।

भारत की सभी टेलीकॉम कंपनियों ने अपनी टैरिफ की कीमतें बढ़ा दी हैं. रिलायंस जियो से लेकर आईडिया वोडा और एयरटेल ने हर प्लान्स पर 40% तक का प्राइस हाइक किया है. लेकिन ये यहीं नहीं रूकेगा, आने वाले वक्त में टैरिफ की कीमतें और बढ़ सकती हैं. एक्स्पर्ट्स का मानना है कि टेलीकॉम इंडस्ट्री को नुकसान से बचाने के लिए ऐसा किया जा सकता है.

टेलीकॉम टॉक की एक रिपोर्ट के मुताबिक सेल्यूयर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया यानी COAI के डायरेक्टर जनरल राजन मैथ्यूज का मानना है कि इंडस्ट्री के फाइनांशियल स्ट्रेस को ठीक करने के लिए टैरिफ हाइक होने चाहिए. उन्होंने यह भी कहा है कि  टैरिफ हाइक 200 रुपये ARPU (एवरेज रेवेन्यू पर यूजर) तक बढ़ने चाहिए.

टेलीकॉम कंपनियां भी टैरिफ हाइक को लेकर TRAI के पास गई हैं ताकि वॉयस और डेटा के लिए फ्लोर प्राइसिंग तय किया जा सके. फ्लोर प्राइसिंग के लिए एक पेपर भी तैयार किया गया है और इसके तहत अगले महीने या अगले हफ्ते में टैरिफ की कीमतें और भी बढ़ सकती हैं.

यह भी पढ़ें  सब्जी को बिना प्याज-लहुसन के गाढ़ा बनाने के उपाय जानिए

रिपोर्ट के मुताबिक सेल्यूलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने टैरिफ बढ़ोतरी को लेकर TRAI के पास गई है और कन्सल्टेशन पेपर दे कर फ्लोर प्राइस सेट करने को कहा है. इसमें कहा गया है कि ज्यादातर कस्टमर्स ने अब भी नए प्लान्स के साथ रिचार्ज नहीं कराया है.

ET Now को दिए एक इंटरव्यू में COIA के हेड राजन मैथ्यूज ने कहा था, ‘हां, हम कह रहे थे शॉर्ट टर्म के लिए टैरिफ को बढ़ा कर कम से कम 200 रुपये ARPU किया जाना चाहिए.

फिलहाल टेलीकॉम रेग्यूलेटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी TRAI स्टेक होल्डर्स के कॉमेन्ट का इंतजार कर रही है जिसके बाद टैरिफ की बढ़ोतरी की जाए या नहीं इस पर फैसला लिया जाएगा. फिलहाल ये साफ नहीं है कि इस बार टैरिफ में कितनी बढ़ोतरी की जाएगी.  

Sharing is caring!

Team AI News
Author: Team AI News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares